Tuesday, 27 December 2011

तेरी याद न बह जाए कहीं.....

दिल में एक तीर सा फंसा है कहीं
लहू के साथ ही तेरी याद न बह जाए कहीं.....

No comments: