Thursday, 6 October 2011

dil

तेरा दिल

यह दिल,
एक बच्चा है
फूलों पे मंडराती तितली को देख मूस्कूराता है
बारिशों मे नहाने की ज़िद करता है
पर बादलों के गरजने पे डरता है ॥
यह
दिल बिलकुल एक बच्चा है
खिल जाता है छोटी सी खुशी से
हंसता है,गिर कर भी
चिड्या के पंखौं मे संगीत सुन्ता है
पर खिलोना टूटने से रोता है
यह दिल कितना सच्चा है
यह दिल बिलकुल एक बच्चा है
See all

Wednesday, 5 October 2011

tumhara dil

कमरे की दीवार पर टंगी है 
तुम्हारा दिल है,  कोई तस्वीर नहीं है
सुनो, जरा दीवार कह रही है
रुको  जरा पास आओ 
देखो मैं थक गयी हूँ
उतार लो इसे 
यह तुम्हारा दिल है
उतार लो इसे
यह भी सुनो  क्या कहती है


यह तुम्हारे सीने से लगती, बटन
जब टूटती है और बिखर जाती है
कह उठती है की आज मत पहनो मुझे 
आज फिर पहन सको 
तो ले जाओ अपना दिल उतार कर
और पहन लो इसे
थक गयी है तुम्हारे इंतज़ार में
हर चीज़ बात करती है
हर  चीज़ बोलती है
ले जाओ,इसे उतार कर
कमरेकी दीवार पर टंगी है 
तुम्हारा दिल है  कोई तस्वीर नहीं है