Thursday, 29 March 2012

आंसू

रिम झिम से झिलमिलाते आंसू
होठों को मुस्कराते देख ठहर जाते हैं....


No comments: