Monday, 7 May 2012

मैं युहीं खुद को तलाशने कहाँ कहाँ न गया

मैं युहीं खुद को तलाशने कहाँ कहाँ न गया
 बस तेरे दिल का दरवाज़ा खुला न था ......     






No comments: