Wednesday, 23 May 2012

मैं और तुम

हर मुलाकात पर  रुक जाता गर मैं 
         शाम हो जाती तुझ तक पहुचने में..........

No comments: