Thursday, 21 June 2012

बेचारा दिल

ऐसी आदत है दिल को धोखा खाने की
नए धोखे का इल्म न होगा उसको।......... 

No comments: