Friday, 1 June 2012

गम

जानती हूँ ,"गम" मेहमान है दो दिन का , चल जायेगा
दो दिन गर जिंदगी बन बैठे तो मुश्किल होगी

No comments: