Sunday, 26 August 2012

पत्थरों से टकडा उठी हैं तनहा लहरें

पत्थरों से टकडा उठी हैं तनहा लहरें
किनारों को हिलाने की कोशिश में।.......(वंदना)

No comments: