Saturday, 9 June 2012

jindagi-e-maut


एक मेरी आह जीने नहीं देती
एक तेरी चाह मरने  नहीं देती
दोजख शायद इसी का नाम है 

Friday, 8 June 2012

जिंदगी

जिंदगी ,चल तुझे जीने लायक बनाई जाय 
युहीं हर पल उदास रहती है 
मैं चाहती हूँ की थोडा प्यार मुझसे कर
युहीं हर पल नाराज रहती है 

shyrayaar


यूं डोरे को हम वक्त की पकड़े तो हुए थे
एक बार मगर छूटी तो फिर हाथ न आयी
हमराह कोई और न आया तो क्या गिला
परछाई भी जब मेरी मेरे साथ न आयी 

umrao jaan


जुस्तजू जिस की थी उस को तो न पाया हमने
इस बहाने से मगर देख ली दुनिया हमने
तुझको रुसवा न किया ख़ुद भी पशेमाँ न हुये
इश्क़ की रस्म को इस तरह निभाया हमने
कब मिली थी कहाँ बिछड़ी थी हमें याद नहीं
ज़िन्दगी तुझको तो बस ख़्वाब में देखा हमने
ऐ "अदा" और सुनाये भी तो क्या हाल अपना
उम्र का लम्बा सफ़र तय किया तन्हा हमने

Umrao jaan (shehriyar)


ज़िन्दगी जब भी तेरी बज़्म में लाती है हमें
ये ज़मीं चाँद से बेहतर नज़र आती है हमें

सुर्ख़ फूलों से महक उठती हैं दिल की राहें
दिन ढले यूँ तेरी आवाज़ बुलाती है हमें

याद तेरी कभी दस्तक कभी सरगोशी से
रात के पिछले पहर रोज़ जगाती है हमें

हर मुलाक़ात का अंजाम जुदाई क्यूँ है
अब तो हर वक़्त यही बात सताती है हमें

Naushaad



ये जानते हुए कि पिघलना है रातभर
ये शम्मा का जिगर है कि जलती ज़रूर है
जाते हैं लोग जा के फिर आते नहीं कभी
दीवार के उधर कोई बस्ती ज़रूर है
नौशाद झुक के मिल कि बड़ाई इसी में है
जो शाख हरी हो लचकती ज़रूर है 

Random but nice "SAYINGS"

1. Life isn't fair, but it's still good..
2. When in doubt, just take the next small step.
3. Life is too short to waste time hating anyone.
4. Your job won't take care of you when you are sick. Your friends and
parents will. Stay in touch.
5. Pay off your credit cards every month.
6. You don't have to win every argument. Agree to disagree.
7. Cry with someone.. It's more healing than crying alone.
8. Save for retirement starting with your first paycheck.
9. When it comes to chocolate, resistance is futile.
10. Make peace with your past so it won't screw up the present.
11. Don't compare your life to others. You have no idea what their
journey is all about.
12. If a relationship has to be a secret, you shouldn't be in it.
13.. Take a deep breath. It calms the mind.
14. Get rid of anything that isn't useful, beautiful or joyful.
15. Whatever doesn't kill you really does make you stronger.
16. It's never too late to have a happy childhood. But the second one
is up to you and no one else.
17. When it comes to going after what you love in life, don't take no
for an answer.
18. Burn the candles, use the nice sheets, wear the fancy lingerie.
Don't save it for a special occasion. Today is special.
19. Over prepare, then go with the flow.
20. Be eccentric now. Don't wait for old age to wear purple.
21. The most important sex organ is the brain.
22. No one is in charge of your happiness but you...
23. Frame every so-called disaster with these words ''In five years,
will this matter?".
24.. Always choose life.
25. Forgive everyone everything.
26. What other people think of you is none of your business.
27. Time heals almost everything. Give time, time.
28. However good or bad a situation is, it will change.
29. Don't take yourself so seriously. No one else does.
30. Believe in miracles.
31. Don't audit life. Show up and make the most of it now.
32. Growing old beats the alternative -- dying young.
33. Your children get only one childhood.
34. All that truly matters in the end is that you loved.
35. Get outside every day. Miracles are waiting everywhere.
36. If we all threw our problems in a pile and saw everyone else's,
we'd grab ours back.
37. Envy is a waste of time. You already have all you need.
38. The best is yet to come.
39. No matter how you feel, get up, dress up and show up.
40. Yield.
41. Life isn't tied with a bow, but it's still a gift.

Thursday, 7 June 2012

ए खुदा कुछ और बाकी है

इतनी बेचैन रूह
इतना तनहा दिल
ए खुदा कुछ और बाकी है 
या सब मुझपर लुटा दिया 

Wednesday, 6 June 2012

शाम


"शाम,"उदास सी  चुपचाप सी चली आइ है

जैसे "रात" को आज चाँद निगलने वाला  है ............

मैं


खुद को तलाशती  फिरती हूँ हर पल हर घडी
खुद ही खुद से रुसवा हो चली गयी थी कहीं 

Tuesday, 5 June 2012

मेरी फरफराहट




मेरी फरफराहट सुनो
उड़ जाऊंगी  मैं इस जिंदगी से तो  सोचना वो कैसी थी. 

बादल


मैं बस अपने अंदर ही रख लेती हूँ
सपनो को, बाहर नहीं निकालने देती
मेरे सपने जो कभी बादल बन
हर रंग हर रूप में ढल जाते हैं

बादलों में मुझे  चेहरे देखाई देते है
उन चेहेरों के दिल कभी गरजते हैं
कभी चुपचाप बेआवाज़ गुजरते बादल
मुझको तनहा देख बरसते हैं.........

बादलों के पाँव कभी देखे हैं?
डूब कर झील में फिर  उभरते हैं
मैं बन जाऊं गर छत का मायूस कोना
आँखों से अपनी , आंसू मेरे बरसाते  हैं.

Monday, 4 June 2012

दिल का इंतज़ार








पी तो ली है मैंने ,भी दिल ने भी 
मेरा इरादा है सो जाने का , दिल का इंतज़ार अभी बाकि है