Saturday, 23 June 2012

मैं और तुम



पीतें हैं शराब  हम तो कहते हैं वो
चलो  अच्छा, झूठ तो मत बोलो।......

Friday, 22 June 2012

एक पल

वो कुछ गुजरे पल, पल से दिन ,दिन
 से रात,
रात से महीने हो गये ,सालों साल बीत गये
उस पल की याद में।  

Thursday, 21 June 2012

किस्मत


कभी किस्मत से मिल गयी "किस्मत"
तो पुछ लूंगी की इतनी नाराज़ क्यूँ है  

फिर भी हम तुम अकेले हैं।.


कितनी बातें भुल चुकी हैं 
कितने लम्हे बाकी हैं 
याद का ऐसा मौसम आया 
फिर भी हम तुम अकेले हैं।........



बेचारा दिल

ऐसी आदत है दिल को धोखा खाने की
नए धोखे का इल्म न होगा उसको।......... 

Tuesday, 19 June 2012

सब्र की सुबह भी हुई



सब्र की सुबह भी हुई
सब्र  की शाम भी हुई
सितम का कोई दिन लेकिन
ख़त्म न हो पाया .....


Monday, 18 June 2012

मन कैसे उदास होता है



रोज सिरहाने आ कर दिल 
तुमसे मिलने की जीद करता है 
रोज उसको समझाने के बाद 
मन कैसे उदास होता है 


17/6/12 To find her

Today, something, so amazing happened, My friend Sangita,went to india for good, and Igot information of my school friend Poonam Pahwa, who is now Poonam Gulati. Deepak Chopra says, always look out for little coincidences in life. What a cool coincidence is this. It was so amazing to talk to her. As if we became 18 again. What a life it was,being 18.. so wild, so mast.. so good. 

मैं तुमको कल बता दूंगी






मैं तुमको कल बता दूंगी 
वो आने वाले कल की हलचल 
जो आज मेरे सीने में है 
पिघलता पल हर दिन का 
टंगा सा मेरी खिड़की पर है 

मैं तुमको कल बता दूंगी 
कितनी उम्र बच गयी 
या बीत गयी इंतज़ार में 
कितने आंसू बह चुके 
या सुख गए याद में 

मैं तुमको कल बता दूंगी 
रोज दिल की आह को कैसे 
चुपचाप युही सुनती रही 
वक़्त बहरा बुजुर्ग बन 
दीवार पर टंगा रहा 

मैं तुमको कल सब बता दूंगी