Thursday, 21 February 2013

लहू का रंग लिए।।।।।।।। 

मुदतें हुई कागज़ को तह लगाए
किसी के आंसू थे लहू का रंग लिए।।।।।।।। 

No comments: