Thursday, 2 May 2013

आएना

आएना

आयने के उस पार  कुछ बीते लम्हे हैं सुख के और दुःख के
आयने  के इस पार ,आँखों में बसे हैं अधूरे से सपने 

No comments: