Thursday, 27 June 2013

तुम और मैं

न दी आवाज़ तुमने, शायद भूल बैठे हो
हमारे सपनो मे  भी आना छोड़ बैठे हो 

No comments: