Wednesday, 5 June 2013

मेरा साया

साया है मेरा रूठा सा,कहाँ तक जाएगा ?
होगी रात, जो गहरी,डर के लौट आएगा ....

No comments: