Thursday, 4 July 2013

एक सपना

हर बार तुमको छूते ही
हर बार तुम्हारा दूर हो जाना
हम दिल को कब तक समझाए
हर बार सपनो में तुम्हारा आना


 

No comments: