Sunday, 12 January 2014

दिल

कुछ तो टूट कर बिखरा है यहाँ वहाँ
मेरा दिल खो गया था , क्या तुम्हे पड़ा मिला ?
 

No comments: