Sunday, 8 June 2014

नहीं,,,,,,,,,,,,,

साया वो है
जो तुम गर  रौशनी में  चलो
तो चुपचाप तुम्हारे पीछे चले
साया वो है
जो तुम गर रौशनी  से  हटो
तो तुम्हारी राह लिए आगे चले

No comments: