Sunday, 4 January 2015

तुम सा

एक कबूतर का जोड़ा जो रोज आता है
उसमे से एक तुम सा क्यों दीखता है ?

No comments: